Film the Lunch Box

Latest Hindi Movie

Movie review the lunch box

द लंच बॉक्स


कौन कहता है कि प्‍यार के जिंदा रहने के लिए मुलाकात जरूरी है और कौन कहता है कि प्‍यार सिर्फ यंगर्स्‍टस के लिए होता है. रीतेश बत्रा की डेब्‍यु मूवी The Lunchbox कहती है कि प्‍यार सिर्फ एक खूबसूरत दिल के लिए होता है. -

डब्‍बावालों की एक मिस्‍टेक के चलते एक नाखुश वाइफ इला (निमृत कौर) और रिटायरमेंट के करीब पहुंच चुके सज्‍जन फनांर्डेज (इरफान खान) एक दूसरे के करीब आ जाते हैं. इला के हसबेंड के पास जाने वाला खाना भले ही गलती से सज्‍जन को मिलता है पर एक अनदेखा कमिटमेंट बिना किसी गलती के उन दोनों की जिंदगी में उतर आता है. लंचबॉक्‍स में रखे लेटर्स उन दोनों को एक अनदेखी अनसुनी डोर में बांध देते हैं. दोनों सिर्फ लेटर्स के सहारे ना सिर्फ ण्‍क दूसरे का सहारा बन जाते हैं बल्‍कि उम्र की इस शाम में प्‍यार का ये अहसास उन्‍हें उन खुशियों से दो चार कराता है जिसे वो अपनी पूरी लाइफ में नहीं जी सके. बिना एकदूसरे को देखे वो एक दूसरे को साथ रहने वालों से ज्‍यादा समझते हैं. - See more at: http://www.jagran.com/topics/film-the-lunch-box

Big image